top of page

“खामोशी और एक चाल”



फोन पर ख़ामोशी छा गई।

फ़ोन पर बाते करते हुए “ सुनो में फिर कहता हूँ ये बोहोत हाई प्रोफाइल मामला हैं तुम लोग इससे हट जाओ वरना तुम लोगो का नामो निशान मिटा देंगे वो लोग, और में कुछ भी नहीं कर पाउँगा” दूसरी और से एक लड़की की आवाज़ आती हैं “फिरदोस” कोड हैं तुम्हारा, “तुम भी नहीं जानते हम जिसके पीछे लग जाते हैं उसको हम छोड़ते नहीं। किसी का बाप चाह कर भी बचा नहीं सकता।” “भलाई इसमें हैं जो भी हैं तुम्हारे पास informetion उसको हमें बता दो और जो सबूत हो उसको भी हमें दे दो” फिरदोस गुस्से में दूसरी और लड़की को धमकाता हैं “तुम मेरा तो क्या किसी का भी कुछ नहीं बिगाड़ सकती, फिरदोस थोड़ा रुका फिर बोला “मेरी मानो तुम ये केस को यही ख़त्म कर दो में तुम लोगो बचा लूंगा तुम नहीं जानते तुमने किस मधुमक्खी के छत्ते में हाथ डाल दिया हैं फिर कहता हूँ हट जाओ , अंजाम बोहोत ही बुरा हैं इसका”- लड़की ने फिरदोस को कहा -”तुम हमे धमकिया मत दो जिस तरह हम तुम्हारे फ़ोन नम्बर तक पहुंचे तुम्हारे बाप तक भी पोहोच जायेंगे, लड़की रुकी फिर कहा फिरदोस से - “जानते हो हमें आज तीसरा दिन हो गया और हमने ३ जगह कारवाही कर ली. तुम ये सोचो हम कहा तक तुम्हारा पीछा कर सकते हैं हमारे पास पिछले कई सालो का रिकॉर्ड मौजूद हैं।”

फोन पर ख़ामोशी छा गई। ...............

5 दृश्य0 टिप्पणी

Comments


bottom of page